भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का प्रकाशन पार्टी जीवन पाक्षिक वार्षिक मूल्य : 70 रुपये; त्रैवार्षिक : 200 रुपये; आजीवन 1200 रुपये पार्टी के सभी सदस्यों, शुभचिंतको से अनुरोध है कि पार्टी जीवन का सदस्य अवश्य बने संपादक: डॉक्टर गिरीश; कार्यकारी संपादक: प्रदीप तिवारी

About The Author

Communist Party of India, U.P. State Council

Get The Latest News

Sign up to receive latest news

समर्थक

बुधवार, 8 अप्रैल 2020

CPI demand immediate action against attacker on Tahaseeldaar Kannauj


प्रकाशनार्थ-

कन्नौज प्रकरण- भाकपा ने की कड़ी कार्यवाही की मांग

लखनऊ- 8 अप्रेल 2020, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव मंडल ने कन्नौज में भाजपा सांसद के नेत्रत्व में एक तहसीलदार के साथ मारपीट की कड़े शब्दों में निन्दा की।
यह मामला इस लिये भी संगीन है कि उपर्युक्त तहसीलदार अनुसूचित जाति से संबन्धित हैं और दलित मुस्लिम तथा गरीबों पर भाजपाइयों कहर कुछ अधिक ही टूटता है।
देश प्रदेश की जनता जब मिल कर जान लेवा कोरोना से जूझ रही है, भाजपाई आज भी गुंडई और तानाशाही पर उतारू हैं। जब पुलिस मजबूरी में घरों से निकले गरीबों को लाठियों से धुन रही थी, एक भाजपा विधायक उन्हें गोली से मारने का हुक्म दे रहे थे। एक अन्य कुख्यात विधायक मगरूर जमातियों को कोरोना जेहादी बता रहे थे। भाजपा की बलरामपुर जिला अध्यक्ष पिस्टल चला कर मोदी के आह्वान का क्रियान्वयन कर रहीं थीं। अब भाजपाइयों ने एक तहसीलदार को ही पीट डाला।
भाकपा ने आरोप लगाया कि वे निरंतर कानून हाथ में ले रहे हैं क्योंकि सरकार उनके खिलाफ कार्यवाही नहीं कर रही है। हिन्दुत्व के आवरण में ढका भाजपा का गरीब, दलित और अल्पसंख्यक विरोधी चेहरा दिन ब दिन उजागर होरहा है।
भाकपा राज्य सचिव मंडल ने उत्तर प्रदेश सरकार से अपील की कि वे कानून हाथ में लेने वाले भाजपाइयों को जेल भेजें। संकट के इस दौर में जब विपक्ष घरों में कैद है, सरकार और शासन पर निष्पक्षता की ज़िम्मेदारी और भी बढ़ जाती है।
डा॰ गिरीश, राज्य सचिव
भाकपा उत्तर प्रदेश

0 comments:

टिप्पणी पोस्ट करें

लोकप्रिय पोस्ट

कुल पेज दृश्य