भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का प्रकाशन पार्टी जीवन पाक्षिक वार्षिक मूल्य : 70 रुपये; त्रैवार्षिक : 200 रुपये; आजीवन 1200 रुपये पार्टी के सभी सदस्यों, शुभचिंतको से अनुरोध है कि पार्टी जीवन का सदस्य अवश्य बने संपादक: डॉक्टर गिरीश; कार्यकारी संपादक: प्रदीप तिवारी

About The Author

Communist Party of India, U.P. State Council

Get The Latest News

Sign up to receive latest news

समर्थक

सोमवार, 13 फ़रवरी 2012

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की ओर से अशोक मिश्रा का चुनाव प्रसारण

मतदाता भाइयों और बहिनों,
विधान सभा चुनाव अपने पूरे शवाब पर हैं। आकाश पूंजीवादी नेताओं के उड़न खटोलों से गूंज रहा है।
इस चुनावी संग्राम में एक ओर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी प्रदेश के किसानों, मजदूरों, महिलाओं, दलितों, छात्रों-नौजवानों, अल्पसंख्यकों तथा शोषित-पीड़ित आम जनों की ताकत के भरोसे के साथ सिद्धान्तों और जन-संघर्षों की अपार पूंजी के साथ चुनाव मैदान में है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जिसका चुनाव निशान ‘हंसिया-बाली’ है, सत्ता से ज्यादा जनता के मुद्दों और सिद्धान्तों की दावेदार है।
दूसरी ओर सिद्धान्तहीन, मुद्दाविहीन पूंजीवादी राजनैतिक दल ‘स्वर्ग तक सीढ़ी लगा देने’ के मिथ्या वादों और नारों के साथ जातिवादी, साम्प्रदायवादी पहियों पर कारपोरेट घरानों, भ्रष्ट नव धनाढ्यों के काले धन से तैयार किये गये, चमकते-दमकते रथों पर बाहुबलियों, माफिया सरगनाओं, बलात्कारियों, भ्रष्टाचारियों, दलबदलुओं की फौज सजाये, सत्ता के दावेदार है, जिन्होंने कई बार सत्ता की बागडोर अपने हाथों में लेकर विकास के घोड़ों को पूंजीपतियों के महलों की ओर दौड़ाया है।
पूंजीवादी, जातिवादी, साम्प्रदायिक दलों ने अपने घोर जन विरोधी, पूंजीपति परस्त राष्ट्रीय आर्थिक नीतियों और घृणित कृत्यों से भारतीय लोकतंत्र को गम्भीर रूप से बीमार कर दिया है। विकास के सभी सूचकांकों पर सबसे निचले पायदान पर फिसल कर उत्तर प्रदेश को बीमारू प्रदेशों में लाइलाज मान लिया गया है।
आपको लोकतंत्र तथा बीमार उत्तर प्रदेश का इलाज अपने मतदान से करने के लिए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी तथा उसके उम्मीदवारों को हंसिया और बाली के चुनाव निशान वाले बटन को दबाकर मतदान करने का हम आपसे अनुरोध करते हैं।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का नारा है - भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों को ध्वस्त करो, जातिवाद और जातिवादी राजनीति को पस्त करो, साम्प्रदायवाद-परिवारवाद का नाश करो, गुण्डो, बाहुबलियों तथा अपराधीकरण की राजनीति को शिकस्त दो, लोकतंत्र तथा जनता को मजबूत करो। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के हाथों में सत्ता का संतुलन दो।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ”सबको शिक्षा, सबको काम“, ”समान काम का समान दाम“, ”महंगाई पर लगे लगाम“, ”रोटी कपड़ा और मकान - मांग रहा है हिन्दुस्तान“ के सैद्धान्तिक नारे और संघर्ष के साथ मैदान में है।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी पिछली सरकार और वर्तमान सरकार के भ्रष्टाचार, घपलों-घोटालों, चाहे वह 50 हजार करोड़ का खाद्यान्न घोटाला हो, चाहे स्वास्थ्य घोटाला हो, के विरूद्ध और बुन्देलखंड एवं पूर्वान्चल में कई कजार किसानों द्वारा आत्महत्या किये जाने, किसानों की बर्बादी, जनता की तबाही के मुद्दों को लेकर संघर्ष की अगुआ पार्टी रही है।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी सार्वजनिक क्षेत्र को मजबूत करने, लघु ग्रामीण तथा हथकरघा उद्योगों को संरक्षण देने, कृषि को उद्योग का दर्जा देकर, कृषि नीति बनाकर, किसानों और ग्रामीण जनों को संवारने के लिए संघर्षरत है।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, जिसका चुनाव निशान हंसिया और बाली है, शिक्षा मित्रों, मध्यान्ह भोजन रसोइयों, आशा बहुओं तथा आंगन बाड़ी में कार्यरत वर्कर्स की सेवाओं का स्थायीकरण एवं उचित वेतन की मांग को लेकर संघर्ष कर रही है।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का आपसे विनम्र अनुरोध है कि उत्तर प्रदेश तथा देश को लूट कर कंगाल और समाज को खोखला करने वाले पूंजीवादी दलों, उनके सूरमाओं को इस चुनाव में शिकस्त दें। चुनाव में विजय श्री दिलाने के नियंता बन गये फोर सी - कम्युनल, कास्ट, क्रिमिनल, कैश अर्थात साम्प्रदायिक, जातिवादी, अपराधीकरण की घिनौनी राजनीति तथा काले धन के सहारे सत्ता पाने के नापाक मंसूबों को अपने वोट की ताकत से मटियामेट कर दें।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी देश के उन बीस फीसदी लोगों, जिन्होंने सत्ता संरक्षण में काली कमाई से काले धन के पहाड़ खड़े कर लिए हैं, उन पर करारी चोट करने तथा देश की अस्सी फीसदी जनता जो बेहाल है, तंगी, गरीबी, मुफलिसी में जी रही है, के हितों की रक्षा के पक्ष में मतदान करने की अपील करती है।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी आपका आवाहन करती है कि भ्रष्टाचार, अन्याय, अत्याचार, शोषणकारी व्यवस्था की चूल हिला दें। जातिवादी, साम्प्रदायिक दलों तथा अल्पसंख्यकों को लगातार झांसा देकर अपनी राजनीतिक रोटी सेंकने की जुगत में लगे दलों के नापाक मंसूबों को खाक में मिला दें। प्रदेश की तकदीर और तस्वीर बदलने के लिए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी को वोट दें। हंसिया बाली के निशान पर मतदान करें।
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी एकमात्र ऐसी पार्टी है, जिसका चुनाव निशान आज तक नहीं बदला। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी का चुनाव निशान हंसिया और बाली है। हमारा आपसे विनम्र अनुरोध है कि हंसिया और बाली चुनाव निशान पर आप अपना मतदान करें। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवारों को विजयी बनायें।
धन्यवाद।

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें

लोकप्रिय पोस्ट

कुल पेज दृश्य